“जिब्राल्टर की चट्टान”- वो गुर्जर जिसकी हुंकार ने सरकारे हिला दी !

“जिब्राल्टर की चट्टान”- वो गुर्जर जिसकी हुंकार ने सरकारे हिला दी !

 

colonel kirori singh bainsla gurjar

 

 

“मैं सदियों से वंचित इन ग़रीब लोगों की ज़िंदग़ी में तरक्क़ी का उजाला भरना चाहता हूँ.” –  कर्नल बैंसला

– यही शब्द थे जब गुर्जर आन्दोलन के वक्त बीबीसी के एक पत्रकार ने उनसे उनके आन्दोलन के विषय में पूछा था | ये शब्द बोलते हुए कर्नल बैंसला की आवाज में दर्द था , वो महसूस कर रहे थे कि कैसे सदियों से आक्रमंकारियो से मुकाबला करती आई उनकी गुर्जर जाति को आजादी के  65 साल बाद भी उनका हक़ नहीं मिला |

रेल की पटरी के पास चारपाई पर अपने समर्थको के साथ चटक लाल रंग की राजस्थानी पगड़ी बांधे और धोती पहने “जिब्राल्टर की चट्टान” के नाम से मशहूर कर्नल बैसला से जब पत्रकार हिन्दी में  सवाल पूछते तो हिन्दी में और अंग्रेजी अखबारों के पत्रकारों ने सवाल पूछे तो उन्हें धाराप्रवाह अंग्रेजी में जवाब दिया !

“कर्नल बैसला” एक ऐसा व्यक्तित्व  जिनके नेतृत्व में ऐसा आन्दोलन हुआ कि सरकार की चूलें हिल गयी , जनजीवन ठहर गया , पटरियां रेलगाड़ियो से महरूम  हो गयी !

next पर क्लिक कर जाने गुर्जर आन्दोलन और किरोड़ी सिंह बैंसला जी  के बारे में

Prev1 of 6
Use your ← → (arrow) keys to browse

Comments

comments

Gurjar Today is the ultimate resource for the Gurjars ,providing Gurjars around the world a platform to interact with the community and connect with our roots.

2 Comments

  1. Kya baat bhai kya baat,,lage raho hum apke sath h

Leave a reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *